Raksha Bandhan 2022

Raksha Bandhan 2022: रक्षाबंधन किस date को मनाएं? 11 या 12 august को? तारीख को लेकर दूर करें कन्फ्यूजन, यहां देखें शुभ मुहूर्त

Raksha Bandhan 2022

भाई बहन के प्यार का त्योहार Raksha Bandhan 2022 की सरकारी छुट्टी 11 august को है। इस बार Raksha Bandhan किस दिन है । इसको लेकर बहुत लोगों के मन में तारीख को लेकर कन्फ्यूजन है कहीं 11august को लेकर चर्चा हो रही है तो कोई 12 august की बात कह रहा है ।  आइए इस कन्फ्यूजन को दूर करते हैं और जानते हैं इसका शुभ मुहूर्त और पंडितों का इस मुहूर्त के बारे में क्या कहना है

Raksha Bandhan 2022 किस दिन है?

भारतीय calendar के अनुसार Raksha Bandhan हिंदुओ के सावन माह की पूर्णिमा तिथि को होती है । पंडित रविंद्र मिश्र ने बताया कि पंचांग के अनुसार पूर्णिमा तिथि का समय 11 august को सुबह 9:35 के पास  प्रारंभ हो रहा है जो कि 12 august को सुबह 7:16 बजे समाप्त होगा । इसके बाद हिंदी महीना भादौ की एकम तिथि शुरू हो जाएगी ।

पंचांग और धार्मिक लोगों की मान्यता के अनुसार हिंदी माह के जिस तिथि में सूर्योदय होता है, उस तिथि को मान्य होता है । कई महान संतों ने यह भी बताया है कि  पूर्णिमा की उदय तिथि 12 julai को हो रही है । हालांकि यह महज 2 घंटे ही सूर्यउदया के बाद पूर्णिमा 12 august को रहेगी, परंतु हिंदी महीने की तारीख को पूरे दिन_रात में 8 पहर होते हैं जिसमें 7 पहर 11 august को बीत रहा है । 1 पहर 12 august को बीत रहा है इसलिए 11 august को रक्षाबंधन के लिए उपयुक्त तिथि है ।

हनुमान जी की पत्नी का रहस्य देखें वीडियो

Raksha Bandhan 2022 भारतीय पंचांग में कब है

भारतीय पंचांग के अनुसार 11 august को पूर्णिमा की शुरुवात 9:35 बजे से होगा और उसी समय से भद्रा नक्षत्र प्रवेश कर रहा है । जो 11 august की शाम 8:25 बजे तक रहेगा । ऐसे में कई संतों का कहना है भद्रा नक्षत्र अशुभ  नक्षत्र माना जाता है । ऐसी स्थिति में 11 अगस्त को दिन में Raksha Bandhan करना । अपने भाइयों की कलाई में राखी बांधना अशुभ माना जाएगा । वहीं पंडित रविन्द्र तिवारी जी कहते है कि पंचांग को देखे तो यह भद्रा नक्षत्र पूरे साल में तीनों लोको में भ्रमण करता है ।

पंचांग के अनुसार 3 लोक में  पाताल लोक एवम स्वर्ग लोक तथा मर्त्य लोक जिस लोक में यह पृथ्वी है । अगर भद्रा नक्षत्र मर्त्य लोक में रहता है तो इसे अशुभ माना जाता है।

Vidamte app यहां से downlod करे 

ऐसी परीस्थिति में भद्रा नक्षत्र होने पर कोई भी कार्य करना शुभ नहीं होता है अतः अगर भाद्र या भद्रा नक्षत्र स्वर्ग लोक में है तो इसे शुभकारी माना जाता है । अगर यह नक्षत्र पाताल लोक में है तो भी बहुत लाभदायक ही होता है । 11 august को यह नक्षत्र जो parthivi लोक प्रवेश कर रहा है वह पाताल lok में स्थित है । इसलिए इस दिन भाद्र या भद्रा नक्षत्र प्रवेश पर कोई खतरा नहीं है । Raksha Bandhan करने वाले या कोई और शुभ कार्य करने वाले के लिए कोई हानि नहीं है ।

Raksha Bandhan 2022 का शुभ मुहूर्त क्या है?

Raksha Bandhan  के शुभ मुहूर्त के बारे में पंडित जी बताते हैं कि 11 august को पूर्णिमा शुरू होने के बाद यह  नक्षत्र में भी Raksha Bandhan  हो सकती है । परंतु सबसे ज्यादा शुभ मुहूर्त 11 august की शाम 8:25 बजे से शुरू हो रही है ऐसा इसीलिए क्यू कि कुछ वक्त से श्रवण नक्षत्र प्रारंभ हो रहा है जो 12 august को सुबह 5:08  तक रहेगा। भारतीय पंचांग को देखें तो श्रवण नक्षत्र मानव जीवन के लिए बहुत ही अच्छा होता है। नक्षत्र में कोई भी काम बहुत ही शुभ और अच्छा माना जाता है ।

इसलिए 11 august की शाम को 8:25 से लेकर 12 august की सुबह 5:08 तक Raksha Bandhan  2022 का विशेष और बहुत ही शुभ मुहूर्त माना गया है। 12 अगस्त को 5:08 बजे के बाद धनिष्ठा नाम का नक्षत्र प्रारंभ हो रहा है । इस नक्षत्र को भी शुभकारी माना गया है अतः 12 august की सुबह 7:16 से  तक की पूर्णिमा तिथि में भी Raksha Bandhan  करना बहुत शुभ माना गया है ।

Leave a Comment